Sunday, 20 March 2016

मुनासिंब !


तुमको मुनासिब नहीं लगता साथ मेरा 
हमको तुम बिन कुछ भी नहीं लगता है मुनासिब !